गुरु कृपा ही गुरु केवलम

हमारे गुरुदेव की

उपलब्धियां

ऐसा कहा जाता है कि नारायण दास महाराज को उनके माता पिता ने छह साल की उम्र में भगवान दास महाराज की शरण में दे दिया था। नारायणदास अपने गुरू की दिन रात सेवा करते थे। उन्होंने गुरू से दीक्षा ली और भगवान की सेवा में लग गए।

संत नारायणदास महाराज को दिल्ली राष्ट्रपति भवन में अध्यात्म के क्षेत्र में पद्म श्री से सम्मानित किया गया।

समूचे राजस्थान में संत नारायण दास जी महाराज का जन्म दिवस अश्विनी माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी यानी आज त्रिवेणी धाम में धूम-धाम से मनाया जाता है। नारायण दास महाराज ने संस्कृत के उत्थान के लिए संस्कृत यूनिवर्सिटी का निर्माण करवाकर सरकार को सौंप दिया था।

इन्होंने अनेक जगह विद्यालय, कॉलेज और अस्पतालों का निर्माण कराया। साथ ही कई पुराने मंदिरों का जीर्णोंद्धार भी करवाया। इसके अलावा इन्होनें कई जगह सामाजिक हित के कार्यों में अपना योगदान दिया। महाराज के शिष्यों के अनेक सत्संग मण्डल सुचारु रूप से चल रहे है जहां हर सप्ताह राम नाम सत्संग होता है।

हमारे आश्रम

श्री काठिया मन्दिर वासुदेव घाट अयोध्या धाम उत्तर प्रदेश

त्रिवेणी धाम शाहपुरा

काठिया खाक चौक मन्दिर डाकोर धाम गुजरात

नारायण धाम नृसिंह मन्दिर गोपालबाडी जयपुर

जयपुर के त्रिवेणी धाम के पीठीधीश्वर संत नारायण दास महाराज की।

इन्हे पद्म श्री से सम्मानित किया गया था हमारे पूर्व प्रेजिडेंट ऑफ़ इंडिया श्री राम नाथ कोविंद के द्वारा| ऐसा कहा जाता है कि नारायणदास महाराज छह साल की उम्र में साधु बन गए और एक सम्मानित शिक्षक के शिष्य बन गए। वह एक आश्रम में रहने लगे। उन्होंने संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना की और फिर इसे राजस्थान सरकार को सौंप दिया।

उनके अनुयायी हर साल हिंदू कैलेंडर के अनुसार कृष्ण पक्ष की सप्तमी को उनका जन्मदिन मनाते थे।
img

Make a Donation

दान करे |

img
img

Portfolio

उत्सव की तस्वीर

All
पटोत्सव
गुरु पूर्णिमा
दीपावली
जन्माष्टमी
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
.
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio
portfolio

WAYS WE CAN HELP

संपर्क सूत्र

cta
Need Help, Call Our HOTLINE!

+91 73572 57273

अधिकारी
Need Help, Call Our HOTLINE!
श्री केशवदास जी महाराज
cta
client
client
client
client